50+ Alvida Shayari in Hindi with Image | Alvida Shayari

 Alvida Shayari – दोस्तों जब आपको कोई छोड़ के जाता या फिर जब आप किसी को छोड़ के जाते हो तो आपको उस शकस की बहुत ज्यादा याद आती है यह याद आने का सबसे बाद कारण उस व्यक्ति के साथ जुड़ी आपकी यदे होती इस कारण आपको वह शकस बहुत ज्यादा याद आता है।

इस लिए आज हम आपको यह कुछ स्पेशल  Alvida Shayari पढ़ाने जा रहे जो आप अपने उन सभी खास शकस को भेज सकते हो जो आपसे अलविदा लेकर चले गए और आपको उस शकस का बहुत ज्यादा खास हो और जिसकी आपको सबसे ज्यादा याद आती है।

तो आइए पढे पहले इन सभी Alvida Shayari को और फिर इन सभी शायरी को अपने उन सभी खास लोगों को शेयर जारे जिनके जाने के बाद आपका मन नहीं लग रहा और आपको उनकी बहुत ज्यादा याद अ रही टी आइए पढे इन सभी  Alvida Shayari को बिना समय गवाये।

 Alvida Shayari in Hindi

अब आइए आपको  हम यह स्पेशल Alvida Shayari in Hindi पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत ज्यादा पसंद आएगी और आप इन सभी Alvida Shayari को अपने खास शकस को भेज सकते हो जिससे उनको यह लगे की आप को उनकी बहुत याद अ रही है।

 

अलविदा कह के जब वौ चल दिये,
इन आखो ने सारे हसीन ख्वाब खो दिये,
दर्द तब नही हुआ जब वो हमे छोड़ दिये,
दुख तो तब हुआ जब वो अलविदा कहते ही खुद रो दिये.,

 

जब कोई ख्वाब अधूरा रह जाता है,
दिल का दर्द आँसू बन बह जाता है,
जो कहता है हम सिर्फ तेरे हैं सदा,
वो शख्स कैसे अलविदा कह जाता है.,

 

तेरी मोहब्बत से लेकर,
तेरे अलविदा कहने तक,
मैंने सिर्फ तुझे चाहा,
तुझ से कुछ नहीं चाहा.,

 

दुआ नहीं तो गिला देता कोई,
मेरी वफ़ा का सिला देता कोई,
जब मुकद्दर ही नहीं था अपना,
देता भी तो भला क्या देता कोई.,

 

अब जिस तरफ से चाहे गुजर जाये कारवां,
वीरानियाँ तो सब मेरे दिल में उतर गयी.,

 

हसीन यादों के चाँद को अलविदा’अ कह कर,

मैं अपने घर के अँधेरे कमरों में लौट आया.,

 

Udas Shayari

 

वक़्त-ए-रुख़्सत अलविदा’अ का लफ़्ज़ कहने के लिए,

वो तिरे सूखे लबों का थरथराना याद है.,

 

वो अलविदा’अ का मंज़र वो भीगती पलकें,

पस-ए-ग़ुबार भी क्या क्या दिखाई देता है.,

 

कलेजा रह गया उस वक़्त फट कर,

कहा जब अलविदा उस ने पलट कर.,

 

एक दिन कहना ही था इक दूसरे को अलविदा,

आख़िरश ‘सालिम’ जुदा इक बार तो होना ही था.,

 

alvida shayari

 

अज़ीज़ो आओ अब इक अल-विदाई जश्न कर लें,

कि इस के ब’अद इक लम्बा सफ़र अफ़सोस का है.,

 

तेरी महुब्बत से ले के तेरे अलविदा कहने तक,
में ने सिर्फ तझे चाहा है तुझ से कुछ नहीं चाहा.,

 

सर झुकाने की आदत नहीं है आँसू बहाने किअदत नहीं है,
हम खो गए तो पछताओ गे बहुत,
क्यूँ के हमारी लौट के आने की आदत नहीं.,

 

प्यार में लोग बहुत मजबूत हो जाते है,
और बहुत कमज़ोर भी,
मजबूत इतने की सारी दुनिया से लड़ जाते है,
और कमज़ोर इतने की सिर्फ एक इंसान बिना रह नहीं पाते.,

 

अब कर के फ्हरामोश तो नाशाद करोगे,
पर हम जो न होंगे तो बहुत याद करोगे.,

 

बस एक बार कर के ऐतबार लिख दो,
कितना है मुझ से प्यार लिख दो,
कटती नहीं अब ये ज़िन्दगी बिन तेरे,
और कितना करूँ में इन्तेज़ार लिख दो.,

 

उसे भूल कर जिया तो किया जिया दम है तो उसे पाकर दिखा,
लिख पत्थारों पर अपने ओयार की कहानी,
और बोल सागर से दम है तो इसे मिटा कर दिखा.,

 

खता हो गयी तो सजा बता दो,
दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,
देर हो गयी है याद करने में जरुर,
लिकेन तुमको भुला देंगे ये ख्याल दिल से मिटा दो.,

 

Prem Shayari

 

वो अलविदा की रस्म भी अजीब थी,
उसका पत्थर सा चेहरा कभी भूलता नहीं.,

 

मिलता था हर रंग जिन्दगी का जिसमें,
वो आज अलविदा जाने क्यो कह रहा है.,

 

अजीब था उनका अलविदा कहना,
सुना कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं,
बर्बाद हुवे उनकी मोहब्बत में,
की लुटा कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीँ.,

 

बड़े गरूर से वो अलविदा कहके चले थे,
फिर न जाने क्यूँ मुड़ मुड़ के देखते रहे.,

 

अलविदा कह गया सबसे फिर बिता कल,
नई उम्मीद की तलाश में होने लगी हलचल.,

 

तुम ख्वाबों में इन पर्दों में आया ना करो,
हर सुबह जब मुस्कुराकर अलविदा कहना ही है,
तो यूँ प्यार से हर रात गले लगाया ना करो.,

 

अलविदा कहते हुए जब उनसे कोई निशानी मांगी,

वो मुस्कुराते हुए बोले की जुदाई काफी नहीं है क्या.,

 

alvida shayari

 

आज किसी मोड़ पर उसे अलविदा कह दिया,
जो कभी शामिल ही नहीं था मेरी जिंदगी में.,

 

ना पीछे मुड़ के देखो, ना आवाज दो मुझको,
बड़ी मुश्किल से सीखा है मैंने अलविदा कहना.,

 

गज़ब दस्तूर है महफ़िल से अलविदा कहने का,
वो भी ख़ुदा-हाफ़िज़ कहते है जिनके ठिकाने नहीं होते.,

 

चांदनी रात अलविदा कह रही है,
ठंडी सी हवा दस्तक दे रही है,
जरा उठाकर देखो नज़ारों को,
एक प्यारी सी सुबह आपको शुभ दिवस कह रही है,
दोस्त आप का दिन शुभ रहे.,

 

लफ्ज़ नम हुए मेरे, धड़कन थमने सी लगी,
जब जाते वक्त उसने आंखों से अलविदा कहा.,

 

सोया तो था में जिंदगी को अलविदा कह कर दोस्तों,
किसी की बे-पनाह दुआओ ने मुझे फिर से जगा दिया.,

 

क्या पता अब तुमसे मिलना हो न हो,

चाह के फूलों का खिलना हो न हो,

बिन मिले ही या कहोगे अलविदा.,

 

मिलता था हर रंग जिन्दगी का जिसमें,

वो आज अलविदा जाने क्यो कह रहा है.,

 

बड़े गरूर से वो अलविदा कहके चले थे,

फिर न जाने क्यूँ मुड़ मुड़ के देखते रहे.,

 

alvida shayari

 

अलविदा कह गया सबसे फिर बिता कल,

नई उम्मीद की तलाश में होने लगी हलचल.,

 

लिपट-लिपट के कह रही हैं मुझसे ये सर्द हवाएं,

इक रात की मोहलत दो अलविदा कहने के लिए.,

 

अपनी नाजायज़ जिद को अलविदा कह दो,

और भी ग़म है ज़माने में सिवा इश्क के.,

 

लफ्ज़ नम हुए मेरे, धड़कन थमने सी लगी,

जब जाते वक्त उसने आंखों से अलविदा कहा.,

 

इस पोस्ट में आपको हमने स्पेशल Alvida Shayari पढाई जो हम आशा करते की आपको बेहद पसंद आई होगी अगर हां तो आप अगली बार हमरी Hindi shayari की बाकि शयरी जरुर पढ़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *