50+ Hate Shayari in Hindi With Image | Hate Shayari

Hate Shayari – दोस्तों आज के समय मे हम बहुत से ऐसे लोग है जिनसे बहुत ज्यादा नफरत करते क्योंकि उन्होंने कभी न कभी किसी न किसी बहाने से हमारा दिल दुखया होता है। लेकिन इस दिल दुखाने मे सबसे बुरा तब लगता जब आपका दिल वो शख्स दुखाए जो आपके बहुत करीब है।

इस लिए आज हम आपको यह Hate Shayari पढ़ाने जा रहे जिसे आप अपने उन दोस्तों को भी भेज सकते हो जिन्होंने आपका दिल किसी न किसी बहाने से दुखया है तो आइए सुरू करे पढ़ना इन सभी Hate Shayari को वो भी बिना  किसी परेशानी तो आइए सुरू करे पढ़ना इन सभी Hate Shayari को।

Hate Shayari in Hindi

अब आपको हम यह स्पेशल Hate Shayari in Hindi पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत ज्यादा पसंद आएगी साथ मे आप इन सभी Hate Shayari को अपने दोस्तों मे भी शेयर कर सकते है।

 

पहले उनकी आंखों से आंसू बहते सिर्फ,

हमे प्यार भरी बूंदो से भीगाने के लिए,

और आज वही बादल बरसते है,

हमे नफ़रत की सैलाब में डुबाने के लिए.,

 

मेरे लबों पे आने वाली,

मुस्कुराहट का पासवर्ड थे तुम,

तुमने खुद को इतना क्यूं बदल लिया.,

 

नफरतें इश्क़ भी बड़ी की होती है उनसे,
उनसे नफरत दिखता है और,
दिल ही दिल में प्यार करता है उनसे.,

 

कभी बैठेंगे फुरसत में खुदा के सामने और पूछेंगे,
वो कौनसी मोहब्बत थी जो हम अपने यार को दे ना सके.,

 

हमने तो लोगों को सच्चा प्यार भी भूलते देखा है,
मुझसे तेरा झुटा प्यार भी नहीं भुलाया जाता.,

 

हमें बर्बाद करना है तो हमसे प्यार करो,
नफरत करोगे तो खुद बर्बाद हो जाओगे.,

 

Dhokebaaz Shayari

 

नफरतों के लिए यहाँ वजह ढूंढी जाती है,
बिना किसी वजह सिर्फ मोहब्बत होती है.,

 

दिलों में गर पली बेजा कोई हसरत नहीं होती,

हम इंसानों को इंसानों से यूँ नफरत नहीं होती.,

 

चला जाऊँगा मैं धुंध के बादल की तरह,

देखते रह जाओगे मुझे पागल की तरह,

जब करते हो मुझसे इतनी नफरत तो क्यों,

सजाते हो आँखो में मुझे काजल की तरह.,

 

खुदा सलामत रखना उन्हें,

जो हमसे नफरत करते हैं,

प्यार न सही नफरत ही सही,

कुछ तो है जो वो सिर्फ हमसे करते हैं.,

 

तेरी नफरतों को प्यार की खुशबु बना देता,

मेरे बस में अगर होता तुझे उर्दू सीखा देता.,

 

लेकर के मेरा नाम वो मुझे कोसता है,

नफरत ही सही पर वो मुझे सोचता तो है.,

 

बैठ कर सोचते हैं अब कि क्या खोया क्या पाया,

उनकी नफरत ने तोड़े बहुत मेरी वफ़ा के घर.,

 

नफ़रत हो जायेगी तुझे अपने ही किरदार से,

अगर मैं तेरे ही अंदाज में तुझसे बात करुं.,

 

Hate Shayari

 

तुझे प्यार भी तेरी औकात से ज्यादा किया था,

अब बात नफरत की है तो नफरत ही सही.,

 

मुझसे नफरत की अजब राह निकली उसने,

हँसता बसता दिल कर दिया खाली उसने,

मेरे घर की रिवायत से वोह खूब था वाकिफ,

जुदाई माँग ली बन के सवाली उसने.,

 

उसने नफ़रत से जो देखा है तो याद आया,

कितने रिश्ते उसकी ख़ातिर यूँ ही तोड़ आया हूँ,

कितने धुंधले हैं ये चेहरे जिन्हें अपनाया है,

कितनी उजली थी वो आँखें जिन्हें छोड़ आया हूँ.,

 

ज्यादा कुछ नहीं बदला, उनके और मेरे बीच में,

पहले नफरत नहीं थी, अब मोहब्बत नहीं हैं.,

 

रात की गहराई आँखों में उतर आई,

कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,

ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,

कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई.,

 

प्यार किया बदनाम हो गए,

चर्चे हमारे सरेआम हो गए,

ज़ालिम ने दिल उस वक़्त तोडा,

जब हम उसके गुलाम हो गए.,

 

आंसुओं की बूँदें हैं या आँखों की नमी है,

न ऊपर आसमां है न नीचे ज़मी है,

यह कैसा मोड़ है ज़िन्दगी का,

उसी की ज़रूरत है और उसी की कमी है.,

 

Hate Shayari

 

कुछ लोग कितने बेवकूफ होते है,

कुछ लोग कितने बेवकूफ होते है,

 स्टेट्स को लाइक करने के बाद,

उसे बिना कम्मेंट के तनहा छोड़ देते हैं.,

 

तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है,

जिसका रास्ता बहुत खराब है,

मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न लगा,

दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है.,

 

नज़र नवाज़ नज़रों में ज़ी नहीं लगता,

फ़िज़ा गई तो बहारों में ज़ी नहीं लगता,

ना पूछ मुझसे तेरे ग़म में क्या गुजरती है,

यही कहूंगा हज़ारों में ज़ी नहीं लगता.,

 

उसकी यादों को किसी कोने में छुपा नहीं सकता,

उसके चेहरे की मुस्कान कभी भुला नहीं सकता,

मेरा बस चलता तो उसकी हर याद को भूल जाता,

लेकिन इस टूटे दिल को मैं समझा नहीं सकता.,

 

एक पल का एहसास बनकर आते हो तुम,

दुसरे ही पल ख्वाब बनकर उड़ जाते हो तुम,

जानते हो की लगता है डर तन्हाइयों से,

फिर भी बार बार तनहा छोड़ जाते हो तुम.,

 

जीने की ख्वाहिश में हर रोज़ मरते हैं,

वो आये न आये हम इंतज़ार करते हैं,

झूठा ही सही मेरे यार का वादा है,

हम सच मान कर ऐतबार करते हैं.,

 

Hate Shayari

 

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,

गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता,

एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को,

क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता.,

 

किसी के हक़ मे ही सही वो दुआ तो करे,

वो कह नही सकती मेरी सुना तो करे,

मे लौट जाऊंगा अपनी उदास दुनिया मे,

वो मुझसे बिछड़ने का फैसला तो कर.,

 

भूल जाने का हौसला ना हुआ,

दूर रह कर भी वो जुदा ना हुआ,

उनसे मिल कर किसी और से क्या मिलते,

कोई दूसरा उनके जैसा ना हुआ.,

 

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,

गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता,

एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को,

क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता.,

 

तू है मुझमें I शामिल इस तरह,

तेरा तसव्वर ज़िक्र भी करूँ किस तरह,

चाहे दूर सही लेकिन तू है इस दुनिया में,

तेरी उम्मीद रहते हुए मैं मरुँ किस तरह.,

 

बहुत चाहा पर उन्हें भुला ना सके,

ख्यालों में किसी और को ला ना सके,

किसी को देख कर आंसू तो पोंछ लिए,

पर किसी को देख कर हम मुस्कुरा ना सके.,

 

Crush Shayari

 

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,

हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,

अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,

हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला.,

 

भुला कर हमें वो क्या खुश रह पाएंगे,

साथ में नहीं हमारे जाने के बाद मुस्कुराएंगे,

दुआ है खुद से कि उन्हें दर्द ना देना,

हम तो सह गए, पर वो टूट जाएंगे.,

 

इस पोस्ट में आपको हमने स्पेशल Hate Shayari पढाई जो हम आशा करते की आपको बेहद पसंद आई होगी अगर हां तो आप अगली बार हमरी Hindi shayari की बाकि शयरी जरुर पढ़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *