50+ Emotional Life Shayari in Hindi for Sad People – Life Shayari

Life Shayari – दोस्तों आज हम आपको Life Shayari पढ़ाएंगे क्योंकि आज के टाइम पर बहुत लोग अपनी लाइफ मे बहुत ही ज्यादा परेशान रहते लेकिन उनको यह नहीं पता की लाइफ मे उदासी से आपको कुछ नहीं मिलेगा अगर आप अपने जीवन मे कुछ पाना चाहते हो तो आपको तपना पड़ेगा।

इस लिए अब हम आपको यह Life Shayari पढ़ाने जा रहे जिसे पढ़ने के बाद आपको यह विश्वास होगा की जीवन मे सफलता पाने के लिए बहुत संघर्ष करना पढ़ता और इस संधर्ष के बाद ही आपको जीवन मे सफलता मिलेगी।

इस लिए आइए साथ मे पढे इन सभी Life Shayari को जो आपको बहुत ही ज्यादा उत्सुकता से भर देगी और फिर आप अपने जीवन से कभी भी नाराज नहीं रहोगे।

 

Life Shayari in Hindi

अब आइए आपको यह सभी स्पेशल Life Shayari in Hindi हम पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत पसंद आएगी साथ मे आप इन सबही Life Shayari को अपने दोस्तों मे भी शेयर कर सकते है।

 

जबसे उलझ गए ज़िंदगी की उलझनों में,

हमने चैन से राहत की सांस ना ली,

उलझे रहे अपनी ही उलझनों में,

बस यूँ ही ज़िंदगी गुज़ार दी.,

 

हाथ थाम के साथ चलने वाले,

पता नहीं कब साथ छोड़ देते हैं,

हमने तो कबसे,

इस बात का तजुर्बा कर लिया.,

 

हमने कमज़ोर समझ के,

लोगों की बातों का जवाब नहीं दिया,

वो आज हमसे,

बात करने की तमीज़ भूल गए.,

 

खुद की ज़िंदगी से ज्यादा,

उन्हें लोगों की फिक्र है,

एक दूसरे से जलने की,

बीमारी में आज हर शख्स गिरफ्त है.,

 

बाकी है अभी वो हौसला,

हमारे दिल के अंदर,

अब ज़िंदगी में किसी के,

आने जाने से फर्क नहीं पड़ता.,

 

खामोशी की मेरी, कई वजह हैं,

दर्द है सीने में, जिसने आवाज़ छीन ली.,

 

Maa Shayari

 

सीख लिया खेल ज़माने का,

कोई यहाँ किसी का नहीं,

खेल खेलते हैं लोग यहाँ,

लोगों के जज़्बातों के साथ.,

 

इसलिए अपनों से दूर रहते हैं,

तकलीफ ना हो उन्हें ज्यादा,

हमारे मर जाने के बाद.,

 

एक काली रात ज़िंदगी मेरी,

उम्मीद है फिर नई सुबह होगी,

टूट कर मरने से बेहतर है,

सोचता हूँ, मैं थोड़ा सब्र कर लूँ,

ज़िंदगी मोहब्बत की,

मोहताज नहीं होती,

हंस लेते हैं हम भी,

दर्द भरे दिल के साथ.,

 

ज़िन्दगी शायरी में गुन्ते हैं,

रोज़ खुद से खुद का तार्रुफ़ करते हैं,

हैं शब्द सब दिल के सारे,

इंग्लिश हिंदी में पढ़ते हैं.,

 

याद बचपन की आती है मुझे,

चले गए वो दिन रह गई यादें.,

 

कुछ हादसे हो जाते हैं ज़िंदगी में,

इंसान जीता तो है लेकिन मुर्दों की तरह.,

 

उम्मीद से परे खुद को, आज़ाद रखा मैंने,

खुद को हमेशा समझा कर रखा मैंने.,

 

आज़माया हमने भी ज़िंदगी को है,

ये कहाँ किसी के साथ होती है,

गर्दिश में डूबे जब किस्मत के सितारे,

ये दुनिया कहाँ किसी के साथ होती है.,

 

तुम्हें हर चीज़ मिल सकती है,

तुम पहले उसके काबिल बनो,

तुम्हें हर चीज़ हासिल होगी,

तुम पहले उसका इल्म हासिल करो.,

 

ज़िन्दगी का सफ़र इतना आसान नहीं होता,

हर कोई यहाँ वफ़ादार नहीं होता,

इसलिए रिश्ते संभल कर बनाना,

यहाँ आदमी को पहचानना आसान नहीं होता.,

 

कामयाब सब होना चाहते हैं,

कामयाब सब हो नहीं पाते हैं,

मिलती है कामयाबी उन लोगों को,

जो अपना क़ीमती समय सही जगह लगाते हैं.,

 

ज़िंदगी को अपने अंदाज़ में,

जीना कोई बुरी बात नहीं है,

ज़िंदगी में सही राह पर चलना,

 हर किसी के बस की बात नहीं है.,

 

बहुत बेबस सा हो गया हूँ,

कहीं खुद में खो गया हूँ,

ना मेरी किसी को फ़िक्र है,

में भी दुनिया से बेफिक्र हो गया हूँ.,

 

हाल मेरे जैसा प्यार में,

किसी और का नहीं हो,

बेवफा मेरे प्यार के जैसा,

प्यार किसी और का नहीं हो.,

 

life shayari

 

ये उम्र और ज़िन्दगी बिना रुके बढ़ते ही जा रहे हैं,

और हम आज भी अपनी ख्वाहिशें लेकर वहीं खड़े हैं.,

 

बहुत पहले से ही हम उन क़दमों की आहट को जान लेते हैं,
तुम्हे तो ऐ ज़िन्दगी, हम दूर से ही पहचान लेते हैं.,

 

एक पहचान हज़ारों मित्र बना देती है,
एक मुस्कराहट हज़ारों दुःख भुला देती है,
ज़िन्दगी के सफर में जरा संभल कर चलना लोगों,
एक ज़रा सी चूक हज़ारों ख़्वाब जला कर राख बना देती है.,

 

जख़्म इतना गहरा हैं इज़हार क्या करें,
हम ख़ुद निशां बन गये ओरो का क्या करें.,

 

न सो सका हूँ न शब जाग कर गुज़ारी है.
अजीब दिन हैं सुकूँ है न बे-क़रारी है.,

 

किसी दिन ज़िंदगानी में करिश्मा क्यूं नहीं होता,
मैं हर दिन जाग तो जाता हूं ज़िन्दा क्यूं नहीं होता.,

 

तमाम शहर में घूमे किसी ने नहीं पहचाना,
हम एक रोज़ जो चेहरा बदलना भूल गए.,

 

इस मोहब्बत की किताब के,
बस दो ही सबक याद हुए,
कुछ तुम जैसे आबाद हुए,
कुछ हम जैसे बरबाद हुए.,

 

तेरे शहर में आ कर बेनाम से हो गए,
तेरी चाहत में अपनी मुस्कान ही खो गए,
जो डूबे तेरी मोहब्बत में तो ऐसे डूबे,
कि जैसे तेरी आशिक़ी के गुलाम ही हो गए.,

 

मुसाफ़िराना सी है ज़िन्दगी,
कुछ मंज़िले अधूरी सी है,
कुछ ख़्वाब मुकम्मल हुए हैं,
बस कुछ थोड़े और बाकी है.,

 

ज़िंदगी में रंग और उमंग होना चाहिए,
एक सच्चा हमसफर भी संग होना चाहिए,
माता पिता, गुरुओं का आशीष बना रहे,
ज़िंदगी जीने का नया ढ़ंग होना चाहिए.,

 

मुश्किलों के दौर में थोड़ा संभल कर चलो,
अनुभवों से सीख लो और निखर कर चलो,
कठिनाइयाँ तो आएंगी और चली जाएंगी,
सजग होकर इसी तरह नए सफ़र पर चलो.,

 

माना कि जिंदगी अब बदल गई है,
वह मस्तानी शाम अब ढल गई है,
फिर भी जीवन जीने का नाम है,
कर्म करना ही तो अपना काम है.,

 

ज़िन्दगी महज़ एक फूल है,
यही सोचना तेरी भूल हैं,
हज़ार ठोकर खाके खुद ही संभलना हैं,
ज़िन्दगी का तो यही उसूल हैं.,

 

मझधार से वापस मुड़ना काफी मुश्किल होता है,
तो किसी का बिखर कर जुड़ना काफी मुश्किल होता है,
घाव तो बहुत आसानी से भर जाते है, लेकिन,
फिर से बेख़ौफ़ गगन में उड़ना काफी मुश्किल होता है.,

 

धुप हैं किस्मत में लेकिन,
छाया भी कही तो होगी,
जहाँ मंजिले होगी अपनी,
कोई तो ऐसी ज़मीं होगी.,

 

मेरी ज़िन्दगी किसी की जागीर नही है,
अन्धेरी कोठरियां मेरी तकदीर नही है,
क्यूं दबाया जाता है हर फैंसले मे मुझको,
क्यूं मेरे हाथो मे किस्मत की लकीर नही है.,

 

जिम्मेवारियां जब कंधो पर पड़ती है,
तो अक्सर बचपन याद आ जाता हैं.,

 

मेरी जिंदगी सुलगती आग है,
कभी जल गई कभी धुआं धुआं.,

 

कितना ही सुलझ जाये,

अपने से हम,
ये जिंदगी अपनी बातों में हमें,
कभी-कभी उलझा ही लेती है.,

 

ये मत पूछना कि जिंदगी,
खुशी कब देती है,
क्योंकि शिकायतें तो उन्हें भी है,
जिन्हें जिंदगी सब कुछ देती है.,

 

जिंदगी इतनी भी बुरी नहीं है कि,
मरने को दिल चाहे,
बस कुछ लोग इतना दर्द देते हैं कि,
जीने का दिल नहीं करता.,

 

थक गयी मेरी जिन्दगी भी लोगों को जवाब देते-देते,
कहीं अब मेरी मौत ना लोगों का सवाल बन जाये.,

 

कुछ रहम कर ऐ जिंदगी,
थोडा संवर जाने दे,
तेरा अगला जख्म भी सह लेंगे,
पहले वाला तो भर जाने दे.,

 

वक्त सीखा देता है उसूल जिंदगी का।
फिर नसीब क्या? लकीर क्या और तकदीर क्या.,

 

life shayari

 

परिंदे भी नहीं रहते पराये आशियानों में,
हमने जिंदगी गुजार दी किराये के मकानों में.,

 

गैर मुक्कमल सी है ये जिंदगी,
और वक्त की बेतहाशा है रफ्तार,
रात इकाई, नींद दहाई,
ख्वाब सैकड़ा, दर्द हजार,
फिर भी जिंदगी मजेदार.,

 

जिंदगी जिन्हें खुशी नहीं देती,
उन्हें तजुर्बा जरूर दे देती है.,

 

शिकवा तकदीर का ना शिकायत अच्छी,
खुदा जिस हाल में रखे वही जिंदगी है अच्छी.,

 

शिकायत मौत से नहीं,
अपनो से थी मुझे,
जरा सी आंख बंद क्या हुई,
लोग कब्र खोदने लगे.,

 

जिंदगी में ये हुनर भी आजमाना चाहिए,
अपनों से अगर हो जंग तो हार जाना चाहिए.,

 

इंसान को अपनी औकात भूलने की बीमारी है,
और कुदरत के पास उसे याद दिलाने की अचूक दवा.,

 

तेरा ईगो तो दो दिन की कहानी है,
लेकिन अपनी अकड़ तो बचपन से ख़ानदानी है.,

 

कुछ कर गुजरने की चाह में, कहाँ कहाँ से गुजरे,
अकेले ही नज़र आये हम, जहां जहां से गुजरे.,

 

प्यार कहा किसी का पूरा होता है,
प्यार का तो पहला अक्षर ही अधूरा होता है.,

 

दिखावा मत कर शहर मे शरीफ होने का,
लोग खामोश तो है. पर नासमझ नही.,

 

दम नहीं किसी में जो मिटा सके हमारी हस्ती को,
जंग तलवारो को लगती है नेक इरादो को नहीं.,

 

मेरी काबिलियत को तुम क्या परखोगे ए गालिब,
इतनी छोटी सी उमर मेँ ही लाखो दुश्मन बना रखे हैं.,

 

तुम सो जाओ अपनी दुनिया में आराम से,
मेरा अभी इस रात से कुछ हिसाब बाकी है.,

 

वो मंज़िल ही बदनसीब थी जो हमें पा ना सकी,
वरना जीत की क्या औकात जो हमें ठुकरा दे.,

 

जिसकी किस्मत मे लिखा हो रोना दोस्तो.
वो मुस्कुरा भी दे तो आँसू निकल आते है.,

 

मेरे सामने वाली खिड़की में एक चाँद सा मुखडा रहता है,
अफसोस ये है के वो हम से कुछ उखड़ा उखड़ा रहता है.,

 

हर छलकती बोतल शराब नहीं होती,
हर खिलती हुई कलि गुलाब नहीं होती,
चाहते तो ताजमहल हम भी बनवा देते,
लेकिन हर एक लड़की मुमताज नहीं होती.,

 

मेरा टूटना बिखरना एक इत्तेफाक नही,
बहुत मेहनत की है एक शख्स ने इसकी खातिर.,

 

आज भी लोग हमारी इतनी इज्जत करते हैं,
हम जिसे मेसेज करते हैं वो सर झुकाकर पढ़ते हैं.,

 

मुहब्बत में सच्चा यार न मिला,
दिल से चाहे हमें वो प्यार न मिला,
लूटा दिया उसके लिए सब कुछ मैने,
मुसीबत में मुझे मददग़ार न मिला.,

 

इतना भी मतलबी न हो यार किसी का,
जब चाहा प्यार किया, जब चाहा भुला दिया.,

 

दोपहर तक बिक गया बाजार का हर एक झूठ,
और में एक सच लेकर शाम तक बैठा ही रहा.,

 

चलते चलते मेरे कदम अक्सर यही सोंचते हैं,
कि किस ओर जाऊँ जो मुझे तू मिल जाये.,

 

मेरे लफ्जों की पहचान अगर वो कर लेता,
उसे मुझसे नही खुद से मोहब्बत हो जाती.,

 

अक्सर तन्हाई में सोच कर हँस देता हूँ की मुझे,
सब याद है लेकिन मैं किसी को याद नही.,

 

हम न खंजर न त्रिशूल रखते है, मुहब्बत वाले उसूल रखते है,
नफरते आपको मुबारक हो, हम तो हाथोँ मे फूल रखते है.,

 

उसके सिवा किसी और को चाहना मेरे बस में नहीं हे,
ये दिल उसका हे अपना होता तो बात और होती.,

 

ये बेवफा वफा की कीमत क्या जाने,
है बेवफा गम-ऐ मोहब्बत क्या जाने,
जिन्हे मिलता है हर मोड पर नया हमसफर,
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने.,

 

इतना मगरूर मत बन मुझे वक्त कहते हैं,
मैंने कई बादशाहो को दरबान बनाया हैं.,

 

गुलाबी आँखे जो तेरी देखी शराबी ये दिल हो गया,
संभालो मुझको ऐ मेरे यारोँ संभलना मुश्किल हो गया.,

 

जो पढ़ा है उसे जीना ही नहीं है मुमकिन,
ज़िंदगी को मैं किताबों से अलग रखता हूँ.,

 

ख़्वाबों पर इख़्तियार न यादों पे ज़ोर है,
कब ज़िंदगी गुज़ारी है अपने हिसाब में.,

 

हजारों उलझनें राहों में और कोशिशें बेहिसाब,
इसी का नाम है ज़िन्दगी चलते रहिये जनाब.,

 

जिंदगी बहुत खूबसूरत है, जिंदगी से प्यार करो,
अगर हो रात तो, सुबह का इंतजार करो,
वो पल भी आएगा जिसका तुझे इंतेज़ार है,
बस उस खुदा पर भरोसा और वक्त पर ऐतवार करो.,

 

जिंदगी में छांव है तो कभी धूप है,
ऐ जिंदगी न जाने तेरे कितने रूप हैं,
जिंदगी में हालात जो भी हों,
लेकिन जिंदगी में मुस्कुराना नही भूला करते हैं.,

 

 

एक नजर है ले दे के अपने पास,
क्यूँ देखें ज़िन्दगी को किसी की नज़र से.,

 

ज़रूरी तो नहीं के शायरी वो ही करे जो इश्क में हो,
ज़िन्दगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दिया करती है.,

 

देखने के लिए संसार को आँखें चाहिए,

प्राप्त करने के लिए लक्ष्य को कर्म चाहिए,

मैं दूर रहूँ तुमसे या रहूँ तुम्हारे पास,

धड़कने के लिए दिल को मेरे, दिल में तुम्हारा वास चाहिए.,

 

जब फैसला आसमान वाले का होता है,
तब कोई बकालत जमीन वाले की नही होती है.,

 

सड़क कितनी भी साफ क्यों न हो,
लेकिन धूल हो ही जाती है,
और इंसान चाहे कितना भी अच्छा क्यों न हो,
भूल हो ही जाती है.,

 

ये ना पूछना जिन्दगी खुशी कब देती है,
क्योंकि शिकायतें उन्हे भी है जिन्हें जिन्दगी सब देती है.,

 

किसके नक़्शे-कदम है तू, ए ज़िन्दगी,
वक़्त सी रफ़्तार भी नहीं, ज़माने से तुझे प्यार भी नहीं.,

 

ज़िन्दगी ये चाहती है कि ख़ुदकुशी कर लूँ,
मैं इस इन्तज़ार में हूँ कि कोई हादसा हो जाए.,

 

अजीब तरह से गुजर गयी मेरी भी ज़िन्दगी,
सोचा कुछ, किया कुछ, हुआ कुछ, मिला कुछ.,

 

ज़िन्दगी सिर्फ मोहब्बत नहीं कुछ और भी है,
ज़ुल्फ़-ओ-रुखसार की जन्नत नहीं कुछ और भी है,
भूख और प्यास की मारी हुई इस दुनिया में,
इश्क ही इक हकीकत नहीं कुछ और भी है.,

 

सरे-आम ​मुझे ​ये शिकायत है ज़िन्दगी से​,​
क्यूँ मिलता नहीं मिजाज़ मेरा किसी से.,

 

जुगनुओं की रोशनी से तीरगी हटती नहीं,
आइने की सादगी से झूठ की पटती नहीं,
ज़िन्दगी में गम नहीं फिर इसमें क्या मजा,
सिर्फ खुशियों के सहारे ज़िन्दगी कटती नहीं.,

 

जाने कब आ के दबे पाँव गुजर जाती है,
मेरी हर साँस मेरा जिस्म पुराना करके.,

 

इस पोस्ट में आपको हमने स्पेशल Life Shayari पढाई जो हम आशा करते की आपको बेहद पसंद आई होगी अगर हां तो आप अगली बार हमरी Hindi shayari की बाकि शयरी जरुर पढ़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *