50+ Yaadein Shayari in Hindi with Image – Yaadein Shayari

Yaadein Shayari – दोस्तों अगर आपको किसी ऐसे व्यक्ति की याद अ रही जो आपके लिए बहुत खास है जिसे आप अपनी जान से भी ज्यादा चाहते हो लेकिन किसी कारण की वजह से आप उनसे मिल नहीं प रहे तो आपके लिए हम पेस कर रहे यह कुछ स्पेशल Yaadein Shayari जिसमे आपको हम ऐसी शायरी पढ़ाएंगे।

जिसे पढ़ने के बाद आपको अपने उस खास शकस की दूरिया भी नजदीक लगने लगेगी। तो इस लिए आप हमरी इन सभी Yaadein Shayari जो हम खास आपके लिए बहुत महंत से खोज के लाए उसे जरूर पढे ताकि आपको यह Yaadein Shayari Hindi पढ़ कर उनकी दूरिया भी नजदीकीय लगने लगे।

Yaadein Shayari in Hindi

अब आइए आपको हम पढ़ाने जा रहे यह स्पेशल Yaadein Shayari in Hindi जिसे पढ़ने के बाद आपको अपने उस खास शकस की दूरिया भी नजदीकिया लगने लगेगी। तो आइए फिर पढ़ा जाए यह कुछ स्पेशल Yaadein Shayari बिना किसी परेशानी।

 

तूम चाहो तो हमें दिल से मिटा देन,
तूम चाहो तो हमें दिल से भुला देन,
मागर आये जो कभी मेरी याड़ ए सनम,
तूम रोना मत सिर्फ दिल से मुस्कुरा देण.,

 

हळ-इ-दिल कुछ इस तरह हमारा है,
याद आप को दिन में न-जाने  कितनी बार किया है,
जब न आये कभी संस आप का टो,
पुराणा संस ही पढ़ कर किया हमने गुज़ारा है.,

 

उमार कि राह में रास्ते बदल जाते है,
वक्त कि आंधी में इंसान बदल जाते है,
सोचते है तुम्हे इतना याद न करे लेकिन्,
आंखे बंद करते ही इरादे बदल जाते है.,

 

उस से कहना हम मजे मैं है,
बास यादें बोहत सतति है,
उन्न की दूरी का ग़म नहीं मुझे,
बास ज़रा आँखें भीग जाती है.,

 

तेरी यादों के बिखरे टुकड़े बन कर,
गुज़रे लम्हो की तस्वीर बना लून,
अपनी हर ख़ुशी तेरे नाम लिख के,
तेरे दुखो को अपनी तक़दीर बना लून.,

 

समझा दो अपनी यादूं को,
वो बिन बुलाये पास आया करती है,
आप तो दूर रह कर सटाते हो मगर,
वो पास आकर रुलाया करती है.,

 

Yaari Shayari

 

रात है बोहत ठण्डी हवा चल रही है,
याद में आपकी किसी कि मुस्कान खिल रही है,
उनके सपनो कि दुनिया में आप खो जाओ,
आंखे करो बंद और चैन से सो जाओ.,

 

सुराज पास हो न हो, रौशनी आस-पास रहती है,
चांद पास हो न हो, चाँदनी आस-पास रहती है,
वैसे ही आप पास हो न हो,
आपकी यादें हमेशा पास रहती है.,

 

याद करेंगे तो दिन से रात हो जायेगी,
आईने को देखिये हमसे बात हो जायेगी,
शिकवा न करिए हमसे मिलने का,
आँखे बंद कीजिये मुलाकात हो जायेगी.,

 

क्या करे जब किसी की याद आये,
हर धड़कन पे किसी का नाम आये,
कैसे कटेंगे ये लम्हे इंतज़ार में उसके,
इश्क़ में हर घडी मेरी जान जाये.,

 

कुछ आँसू होते हैं जो बहते नहीं,
लोग अपने प्यार के बिना रहते नहीं,
हम जानते हैं आपको भी आती है हमारी याद,
पर जाने क्यों आप हमसे कहते नहीं.,

 

जहाँ भूली हुई यादें दामन थाम लें दिल का,
वहां से अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा है.,

 

yaadein shayari

 

तुम से मुमकिन हो तो फिर रोक दो साँसें मेरी,
दिल जो धड़केगा, तो फिर याद तो तुम आओगे.,

 

कहाँ जा रहे हो तुम बिछड़ कर हमसे,
कौन सी जगह है जहां यादों से बच पाओगे.,

 

मुझे मालूम है ऐसा कभी मुमकिन ही नहीं,
फ़िर भी हसरत रहती है कि तुम याद करोगे.,

 

सर्द हवाएँ क्या चली फिज़ाओं में,

हर तरफ तेरी यादों की धुँध बिखर गई.,

 

कब तक याद करूँ मैं उसको कब तक अश्क़ बहाऊँ,
यारो अब तो रब से दुआ करो मैं उसको भूल ही जाऊँ.,

 

मेरा प्यार सच्चा था इस लिये तेरी याद आती है,
अगर तेरी बेवफाई भी सच्ची है तो अब यादों मे मत आना.,

 

कौन चाहता है रिहा होना तेरी यादों से,
ये तो वो क़ैद है जो जान से ज़्यादा अजीज़ है.,

 

होश में थे तो हुए हवाले, तेरी हसीन यादों के,
इन दिनों चूर हूँ नशे में, तेरे उन झूठे वादों के.,

 

काश तुम भी हो जाओ, तुम्हारी यादो की तरह,
न वक़्त देखो न बहाना, बस चली आओ.,

 

आज अचनक तेरी याद ने मुझे ने मुझे रुला दिया,
किया करू तुमने जो मुझे भुला दिया,
न करती वफ़ा न मिलती सजा,
सायद मेरी वफ़ा ने ही तुझे बेवफा बना दिया.,

 

ए खुदा उन के हर लम्हे की हिफाज़त करना,
मासूम सा चहेरा उदास हु अच्छा नहीं लगता.,

 

बड़ी मुश्किल से सिखा है खुस रहेना उन के बिगैर,
सुना है ये बात भी उन्हें थुड़ी परेसान करती है.,

 

वो लोग भी अजनबी बन गए है,
जो कहेते थे मुझे तेरी आदत सी हो गयी है.,

 

काश कभी ऐसा भ हुवा होता,
मेरी कमी ने तुझे उदास किया किया होता.,

 

बदनाम करते है लोग हम्हे जिस शख्स के नाम से,
क़सम से उस शख्स को हमने जी भर के भी नहीं देखा.,

 

किसी रोज़ होगी रोशन मेरी भी ज़िन्दगी,
इंतज़ार सुबह का नहीं किसी के लौट आने का है.,

 

तेरे बिना तनहा हम रहेने लगे है,
दर्द के तुफ्हानो को सहेने लगे है,
बदल गयी है इस क़दर मेरी ज़िन्दगी,
अक्स बन कर पल्खों से बहेने लगी है.,

 

शिकवा करे भी तो किस्से करे,
ये दरद भी और देने वाला भी मेरा.,

 

में चल पड़ता हु डगर डगर जहाँ तेरे क़दम पडे,
फिजाओं में वहां अब भी तेरी खुसबू बाकी है.,

 

साथ भीगे बारिश में ये मुमकिन नहीं,
चल भीगी यादों में तुम कहीं, मैं कहीं.,

 

बस एक आख़िरी रस्म चल रही है हमारे बीच,
एक दूसरे को याद तो करते है लेकिन बात नहीं होती.,

 

shayari on yaadein

 

उन फूलों से दोस्ती क्या करोगे,
जो एक दिन मुरझा जायेंगे,
करना है दोस्ती तो हम जैसे काँटों से करो,
जो एक बार चुभे तो बार-बार याद आएंगे.,

 

आधी रात को सपना आ जाता है,
फिर सोना मुश्किल हो जाता है,
खुदा की कसम यारो मैंने प्यार नहीं किया,
ये प्यार तो अपने आप ही हो जाता है.,

 

दिल में जगे अरमानो को कभी मिटा न देना,
देकर होतो को कभी रुला न देना,
इस बात का बहाना की हम दूर है आपसे,
कभी अपने इस दोस्त को भुला न देना..

 

जिंदगी के पल युही गुज़र जायेंगे,
ज़िंदगी में कुछ खोकर कुछ पाएंगे,
आज यहाँ है कल दूर चले जायेंगे,
पर वादा है आप के यादो में ज़रूर आएंगे..

 

दिल्लगी दोस्तों के नाम होती है,
दिल्लगी दोस्तों की शान होती है,
दूर रह कर भी दोस्तों को याद करना,
असली दोस्त की पहचान होती है.,

 

एक ख्वाब एक ख्याल एक हकीकत है तू,
ज़िंदगी में पाने वाली हर ज़रूरत है तू,
जिसको रोज़ याद करने को दिल करे,
अरे यार वही स्वीट सी मुसीबत है तू.,

 

हर दूरी मिटानी पड़ती है,
हर बात बतानी पड़ती है,
लगता है दोस्तों के पास वक़्त ही नहीं है,
आज कल.. खुद अपनी याद दिलानी पड़ती है.,

 

हम तेरे दिल में रहेंगे एक याद बनकर,
तेरे लब पे खिलेंगे मुस्कान बनकर,
कभी हमें अपने से जुदा न समझना,
हम तेरे साथ चलेंगे आसमान बनकर.,

 

याद करता है कोई मुझे शिद्दत से,
जाता क्यों नही मेरा ये वहम मुद्दत से.,

 

जब भी कभी बीतें लम्हों की याद आएगी,
होंठ तो सी लेगें हम पर आँख तो भर आएगी.,

 

हम कहीं लिखना भूल न जाएँ,
तुम यूँ ही दिल को दुखाती रहा करो.,

 

मुझे पतझड़ की कहानियाँ सुना के उदास न कर ऐ जिंदगी,
नए मौसम का पता बता, जो गुजर गया, वो गुजर गया.,

 

यादों के काफिले जो सरसराये दिल में जज्बात गुनगुनाने लगे,
तुझसे रूबरू होने की चाहत में उम्मीदों के चिराग जलने लगे.,

 

purani yaadein shayari

 

गुजारिश हमारी वह मान न सके,
मज़बूरी हमारी वह जान न सके,
कहते हैं मरने ?के बाद भी याद रखेंगे,
जीते जी जो हमें पहचान न सके.,

 

कितने अनमोल होते हैं यह मोहब्बत के रिश्ते,
भी कोई याद न भी करे फिर भी इंतज़ार रहता है.,

 

उसकी “यादों” से भरी है मेरे दिल की तिजोरी,
कोई कोहिनूर भी दे तो भी मैं सौदा ना करूँ.,

 

तुम याद नही करते, हम तुम्हे भुला नही सकते,
तुम्हारा और हमारा रिश्ता इतना खूबसूरत है.,

 

तुम्हारी याद के साए मेरे दिल के अँधेरे में,
बहुत तकलीफ देते हैं मुझे जीने नहीं देते,
अकेली राह में हमराह कोई मिल तो जाता है,
मगर कुछ दर्द हैं जो दिल बहलने नहीं देते.,

 

ज़िंदगी तेरे बिना अब कटती नहीं है,
तेरी याद मेरे दिल से मिटती नही,
तुम बसे हो मेरी निगाहो में,
आँखो से तेरी सूरत हटती नही.,

 

तेरी यादों को पसन्द है मेरी आँखों की नमी,
हँसना भी चाहूँ तो रूला देती है तेरी कमी.,

 

जहाँ भूली-बिसरी यादें दामन थाम लें दिल का,
वहां अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा है.,

 

जिसकी यादों में रात गुजर जाती है,
जिसकी लिए आँखें भर आती है,
मुश्किल है उसको ये कह पाना,
तेरे बिन धड़कन भी थम जाती है.,

 

फिर उसकी याद, फिर उसकी आस, फिर उसकी बातें,
ऐ दिल लगता है तुझे तड़पने का बहुत शौक है.,

 

अपनी यादों की खुसबू भी हमसे छीन लेंगे क्या,
किताब-ए-दिल में अब ये सूखा गुलाब तो रहने दो.,

 

जो तूने दिया उसे हम याद करेंगे,
हर पल तेरे मिलने की फ़रियाद करेंगे,
चले आना जब कभी ख्याल आये मेरा,
हम रोज़ खुदा से पहले तुझे याद करेंगे.,

 

 

कुछ नहीं बाकी बचा है तेरे जाने के बाद,
तड़प उठता है मेरा दिल आ जाये जो तेरी याद,
मायूस हो गया हूँ मैं अपनी सूनी ज़िंदगी से,
कोई तो हो जो समझे मेरे दिल के यह जज़्बात.,

 

उसकी याद आई है साँसों जरा अहिस्ता चलो,
धड़कनों से भी इबादत में खलल पड़ता है.,

 

कुछ खूबसूरत पलों की महक सी हैं तेरी यादें,
सुकून ये भी है कि ये कभी मुरझाती नहीं.,

 

कभी याद आती है कभी उनके ख्वाब आते हैं,
मुझे सताने के सलीके तो उन्हें बेहिसाब आते हैं।

 

इतना न याद आओ कि खुद को तुम समझ बैठूं,
मुझे अहसास रहने दो मेरी अपनी भी हस्ती है.,

 

तुझे याद करना न करना अब मेरे बस में कहाँ
दिल को आदत है हर धड़कन पे तेरा नाम लेने की.,

 

हर एक पहलू तेरा मेरे दिल में आबाद हो जाये,
तुझे मैं इस क़दर देखूं मुझे तू याद हो जाये.,

 

कहीं ये अपनी मोहब्बत की इन्तेहाँ तो नहीं,
बहुत दिनों से तेरी याद भी नहीं आई.,

 

ढूढ़ोगे उजड़े रिश्तों में वफ़ा के खजाने,
तुम मेरे बाद मेरी मोहब्बत को याद करोगे.,

 

पापा से डर जब लगता था,
उन्हें दूर से देख के भगता था,
उस दिन क्यूँ पड़ी थे मार मुझे,
उस दिन की कहानी याद नहीं.,

 

इस पोस्ट में आपको हमने स्पेशल Yaadein shayari पढाई जो हम आशा करते की आपको बेहद पसंद आई होगी अगर हां तो आप अगली बार हमरी Hindi shayari की बाकि शयरी जरुर पढ़े.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *